भीषण ठंड में नगर पालिका प्रशासन की नाकामयाबी के चलते जनता बेहाल

रिपोर्ट -शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय (झांसी)। 6 जनवरी 23 प्रातः5 बजे से ही देर शाम तक कस्बा गुरसरांय से लेकर पूरे ग्रामीण क्षेत्र में घने कोहरे और बर्फीली शीतलहर के चलते हर आम से लेकर खास तक ठंड से बुरी तरह कपकपाते देखा गया। और इस ठंड में घर मकान कपड़े कोई भी बचाव का काम नहीं कर रहे थे काम आ रही थी तो अग्निदेवता के जगह जगह लोगों ने लकड़ियों की व्यवस्था करके अलाव लगा रखे थे। हर अलाव पर 10 से 15 लोग जहां तापकर अपनी ठंड का बचाव कर रहे थे तो अलाव के पास कुत्ते के पिल्ले और गौवंश भी सहारा लेते दिखे। इस समय भीषण ठंड में भी नगर पालिका प्रशासन की ठंड बचाव को लेकर न तो कोई मॉनिटरिंग की जा रही है और न ही बेहतरीन व्यवस्था जिसके चलते प्रतिवर्ष ठंड में पालिका प्रशासन द्वारा और राजस्व प्रशासन द्वारा आपदा प्रबन्धन से जो व्यवस्था होती थी वह इस वर्ष 2023 में सिर्फ खानापूर्ति दिख रही है जिला प्रशासन और शासन को ऐसी भीषण ठंड में तुरन्त बचाव एवं राहत क

आखिर नगर पालिका द्वारा घोर अनियमितताएं के बाद शासन द्वारा दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही क्यों नहीं…..?

जिला प्रशासन की ओर से एडीएम (नमामि गंगे) संजय पांडे ने गुरसरांय नगर पालिका कार्यालय और गौशाला का निरीक्षण किया जिसमें स्पष्ट रूप से गौवंशो को भीषण ठंड से बचाव के लिए कोई प्रबन्ध न होने और गौशाला में क्षमता से चौगुने गंदगीयुक्त व्यवस्था में गौवंश को देखकर अधिशासी अधिकारी को सख्त निर्देश देकर गौवंशों को एरच गौशाला तत्काल स्थानांतरित करने के लिए कहा था साथ ही गुरसरांय गौशाला में गौवंशो को पर्याप्त चारा आदि के साथ ठंड के बचाव के लिए बरसात के बचाव के लिए कोई कदम या व्यवस्था न होने पर नाराजगी व्यक्त की थी और तुरंत व्यवस्था बनाए जाने के निर्देश दिए थे लेकिन उनके निर्देश के बाद भी चौकस व्यवस्था नहीं की गई।

भीषण गंदगी का अंबार देख एडीएम ने जताई थी नाराजगी……..

जब वह 3 जनवरी 2023 को एडीएम निरीक्षण करने के लिए गौशाला जा रहे थे तो मोठ़ रोड पर सड़क के दोनों ओर बड़ी मात्रा में डंप भीषण गंदगीयुक्त कचड़े पर उनकी निगाह पड़ी जिसे देख उनका पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया और नगर पालिका अधिशासी अधिकारी को सख्त हिदायत देते हुए आदेशित किया कि जहां कचड़ा घर बनाया गया है वहां कचड़ा डाला जाए एडीएम साहब का नाराज होना बाजबी था क्योंकि इस गन्दगी से कोई भी भयावह संक्रमित बीमारी पूरे कस्बे में फेल सकती है।
इस प्रकार एक के बाद एक नगर पालिका गुरसरांय में गंभीर अनियमितताएं को देखा जाए तो प्याज की परत दर परत खुलती अनियमितताओं की जन्मकुंडली उजागर होती है फिर यहां से अधिशासी अधिकारी और वरिष्ठ लिपिक के विरुद्ध कार्यवाही न होना उक्त अधिकारियों द्वारा लगातार गुरसरांय की जनता के साथ तानाशाह पूर्ण रवैया अपनाया जा रहा है जिससे बुरी तरह जनता परेशान है और जनरोष है और उत्तर प्रदेश शासन की छवि भी धूमिल हो रही है कस्बे के लोगों ने जिला प्रशासन से लेकर उत्तर प्रदेश शासन से जल्द बड़ी कार्यवाही की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *